25 वें द्विवार्षिक सम्मेलन के उपरांत महामंत्री का उद्बोधन

साथियों नमस्कार
लखनऊ मंडल के संगठन, ऑल इंडिया लाइफ इंश्योरेंस इम्पलाईज एसोसिएशन का वार्षिक राष्ट्रीय अधिवेशन, विगत 6, 7 एवं 8 नवंबर को, जलपाईगुड़ी मंडल के तत्वावधान में अत्यंत सफलतापूर्वक आयोजित किया गया। लखनऊ मंडल से तीन महिला साथियों तथा तमाम साधारण सदस्यों सहित 25 सदस्यों ने इस वार्षिक सम्मेलन में भाग लिया।
यह अधिवेशन, जलपाईगुड़ी मंडल के साथियों ने “लता गुड़ी” के गुरु-मारा, कानन स्थित, सनसिटी रिसॉर्ट तथा ड्रीम-लैंड रिज़ार्ट में आयोजित किया, जो इस आयोजन का मुख्य आकर्षण था, यह स्थान हरित अरण्य से चहुँ दिश परिसीमित है।
शहर की भीड़ भाड़ से दूर इस स्थान का प्रदूषण रहित वातावरण तथा गुरु मारा राष्ट्रीय उद्यान में वन्य-जीवों की उपस्थिति का आभास एक रोमांच उत्पन्न कर रहा था, भाव विह्वल कर देने वाली हरितमा के मध्य, निशा का यौवनोन्मुखन, वातावरणीय तापमान में निरंतर शिथिलन की सहचरी करता, प्रात की बेला पक्षियों के चहचहाहट से मधुर संगीत उत्पन्न करती हुई, सूर्य का स्वागत करतीं। भास्कर की स्वर्णिम रश्मियां, तुहिन कणों से आच्छादित घास के मैदान को चांदी का असीम आवरण प्रदान कर, अद्भुत प्राकृतिक सौंदर्य से हम सभी को आनन्द विभोर करतीं।
इस अधिवेशन में देश के विभिन्न कोने से आए प्रतिभागियों के अतिरिक्त उत्तर मध्य क्षेत्र से आगरा, कानपुर, बरेली, देहरादून तथा लखनऊ के तमाम सदस्यों ने अत्यंत उल्लासपूर्ण सहभागिता सुनिश्चित की।
तीन दिवसीय इस कार्यक्रम का पहला दिन, जलपाईगुड़ी के मंडल कार्यालय प्रांगण में झंडारोहण द्वारा उद्घाटन व स्वागत, अभिनन्दन समारोह से प्रारंभ होकर एक विशाल जुलूस में परिवर्तित हो गया, इस जुलूस की अगुवाई एक पारम्परिक सामुहिक बिहू नृत्य मंडली द्वारा हुई एवं पीछे देश के कोने-कोने से आए विभिन्न मंडलों के सदस्यगण पंक्तिबद्ध हो अनुशासित तरीके से शहर के मध्य से वहाँ की विभिन्न सड़कों पर चलते हुए जलपाईगुड़ी के आम जन को आकर्षित करने तथा उनके मध्य कौतूहल बिखेरने में सफल रहे।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में किसी राजनीतिज्ञ या शासकीय या राजकीय सत्तासीन उच्च पदस्थ राजदरबारियों के बजाय एक अत्यंत महत्वपूर्ण परन्तु अति साधारण पृष्ठभूमि वाले व्यक्ति कलीमुलहक को आमंत्रित किया गया। कलीमुलहक को मोटर साइकिल एंबुलेंस के अविष्कार का श्रेय है, इस अभूतपूर्व उपलब्धि पर भारत सरकार उन्हें पद्मश्री से सम्मानित कर चुकी है।
कार्यक्रम का अगला चरण राष्ट्रीय सांस्कृतिक, सामाजिक, आर्थिक, भौगोलिक, धार्मिक अनेकता में एकरूपता के संदेश पर आधारित “मिले सुर मेरा तुम्हारा, तो सुर बने हमारा” के महत्वपूर्ण एवं अर्थपूर्ण संदेश पर आधारित, एक अत्यंत मनोरंजक कार्यक्रम, जलपाईगुड़ी के स्थानीय तथा निगम में कार्यरत कलाकारों की गीत एवं संगीत बद्ध प्रस्तुति ने तमाम दर्शकों को मंत्रमुग्ध एवं जडवत् कर दिया।
अगले दो दिनों तक विभिन्न इकाईयों द्वारा सूचनाओं का आदान-प्रदान किया गया।
लखनऊ मंडल की ओर से, महामंत्री की ओर से एक सारगर्भित उद्बोधन तथा संयुक्त मंत्री सोमेन्द्र श्रीवास्तव द्वारा स्थानीय एवं केंद्रीय स्तर के मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की गई।
सदन में जिन विषयों पर मुख्य रूप से लगभग सभी की ओर से चर्चा हुई उसमें वेतन पुनर्निर्धारण प्रमुख था। इसके अतिरिक्त पांच दिवसीय सप्ताह तथा अन्य लम्बित मुद्दों विशेषकर, पी एल एल आइ पर गंभीर चर्चा की गई।
सभा के अंतिम चरण में राष्ट्रीय महासचिव श्री मनोहर वेगास ने केंद्रीय स्तर पर वेतन पुनर्निर्धारण तथा पांच दिवसीय सप्ताह सहित अन्य लम्बित मुद्दों को केंद्रीय प्रबंधन के माध्यम से सरकार के समक्ष सशक्त माध्यम से उठाए जाने के समस्त लोकतांत्रिक उपायों के प्रयोगात्मक पक्ष के अनुप्रयोग से न हिचकने का आश्वासन दिया एवं सभी से सहयोग की अपेक्षा पर बल दिया।
सभा के अंतिम चरण में वार्षिक चुनाव की प्रक्रिया अत्यंत शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई इस प्रक्रिया में कुछ अपरिहार्य परिवर्तनों जैसे कार्यकारी अध्यक्ष श्री कलापी देसाई, अध्यक्ष श्री एम. पी. मित्तल तथा महामंत्री श्री मनोहर वेगास (अपरिवर्तित) के अतिरिक्त उल्लेखनीय परिवर्तन लखनऊ मंडल के कर्मठ एवं जुझारू साथी सोमेंद्र श्रीवास्तव का अखिल भारतीय संयुक्त मंत्री चुना जाना रहा।
सोमेन्द्र श्रीवास्तव का राष्ट्रीय संयुक्त मंत्री चुना जाना, लखनऊ मंडल के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि है इससे पूर्व भी उनको उनकी कार्यक्षमता के आधार पर वेतन पुनर्निर्धारण मसविदा निर्माण समिति सदस्य के रूप में दायित्व दिया गया जिसके निर्वहन में इन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, इतना ही नहीं सोमेन्द्र श्रीवास्तव ने आल इंडिया लाइफ की वेबसाइट के निर्माण में आलमबाग शाखा के आनन्द मिश्रा के साथ मिलकर महत्वपूर्ण योगदान दिया है, इस वेबसाइट को इसी अधिवेशन में सार्वजनिक रूप से प्रमोचित (launch) कर इन्होंने प्रशंसा बटोरी, इस अवसर पर लखनऊ मंडल के सभी साथियों को मंच पर बुला कर सम्मानित किया गया जो पूरे लखनऊ मंडल के लिए अत्यंत गौरव का विषय है।
साथी सोमेन्द्र श्रीवास्तव का केन्द्रीय इकाई का संयुक्त मंत्री बनाया जाना पूरे लखनऊ मंडल के लिए अभूतपूर्व क्षण है यह पद उन्हें उनकी विलक्षण प्रतिभा के बल पर मिला है हमें विश्वास है कि वे आगामी वर्षों में अपने पद की सार्थकता को सकारात्मक परिणति प्रदान कर सफलता के गगनचुंबी कीर्तिमान स्थापित कर पूरे लखनऊ मंडल को हर्षित व गौरवान्वित करते रहेंगे हम साथी सोमेन्द्र को इंदिरा नगर शाखा तथा पूरे मंडल की ओर से हार्दिक बधाई प्रेषित करते।
यहां पर यह स्पष्ट कर देना अत्यावश्यक समझता हूँ कि हमारा यह कार्य कभी भी सफल न होता यदि लखनऊ मंडल के सभी साथियों की प्रेरणा, शुभेच्छाएं व आर्थिक सहयोग हमें न मिलता, हम अपनी ओर से तथा अपने संगठन लाईफ इंश्योरेंस इम्पलाईज एसोसिएशन, लखनऊ इकाई की ओर से हार्दिक धन्यवाद ज्ञापित करते हैं और आभार व्यक्त करते हैं।
जिन साथियों ने लखनऊ मंडल की ओर से अपनी तमाम व्यस्तताओं को तिलांजलि देकर अधिवेशन में सहभागिता की उनको धन्यवाद प्रेषित करते हैं। हम साथी रघुवीर सिंह के भी आभारी हैं हैं जिन्होंने रेलगाड़ी के 14घंटे विलम्बित होने के परिणाम स्वरुप लखनऊ के 17 सदस्यों को अपने घर पर रूकने एवं स्वयं भी इसी गाड़ी की प्रतीक्षा करते हुए सुबह से शाम तक हमारी आवभगत में लगे रहे।
हम त्रिदिब गुन तथा जलपाईगुड़ी के सभी साथियों का व्यक्तिगत, लखनऊ मंडल की ओर से तथा नार्थ सेंट्रल जोन की ओर से, उच्चकोटि के आयोजन, अप्रतिम आतिथ्य सत्कार, अद्वितीय भोजन व ठहरने की व्यवस्था, ह्रदयस्पर्शी संगीतमयी मनोरंजन व्यवस्था इत्यादि इत्यादि के लिए आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद ज्ञापित करते हैं।
मुझे यह कहते हुए तनिक भी संकोच नहीं है कि जलपाईगुड़ी का यह आयोजन आगामी वर्षों में मील का पत्थर साबित होगा।
धन्यवाद
क्रांतिकारी अभिवादन सहित
आपके
सहयोग का सदैव आकांक्षी व ऋणी
अजहर जमाल सिद्दीकी
महामंत्री
लाइफ इंश्योरेंस इम्पलाईज एसोसिएशन, लखनऊ इकाई

LIST OF OFFICE-BEARERS & W.C. MEMBERS

PRESIDENT : SHRI M.P. MITTAL
WORKING PRESIDENT : SHRI K.P. DESAI
GENERAL SECRETARY : SHRI MANOHAR VIEGAS
TREASURER : SHRI WALTER MARTIS
VICE-PRESIDENTS :

SHRI S.C. KANDWAL (NZ)
SHRI RAGHUBIR SINGH (NCZ)

SHRI RAKESH LAKDAWALA (WZ)

SHRI SUNIL SAGAR (SCZ)
SHRI P.M. NATH (EZ)
JOINT SECRETARIES :

SHRI R.K. HAZARIKA (EZ)
SHRI GANESH NAYAK (WZ)

SHRI RANJIT MISRA (EZ)

SHRI PRAMOD RANA (NZ)
SHRI SOMENDRA SRIVASTAVA (NCZ)

SHRI SUMANCHANDRA RAO (SCZ)
W.C. MEMBERS:

SHRI/SMT.

Prashant Payal, O.P. Yadav, Sunil Sehrawat, Ganga Singh Rawat, Ravinder Chopra, Gurdeep Singh, R.P. Saxena, Y.P. Gupta, Sanjay Solanki, V.K. Prajapati, V.K. Yadav, Sanjay Balani, Azhar Siddiqui, Dinesh Singh, Archana Sankhdhar, Pawan Rawat, B.T. Khandekar, Arun Mane,

Sanjay Ahire, Sunil Sarvankar, R.R. Mishra, Harish Singh, Bhavnesh Bhatt, Mukesh Soni, Bharat Gajjar, G.V. Likhare, M.P. Vaniya, Vinod Modi, Priti Bumia, Dilip Kumar Deka, Jishu Mazumdar, Dipjyoti Nath, Noor Mohammad Ali, Jatin Chandra Das, Kokil Kumar Haloi, Manoj Kumar Nath, Bhabani Prasad Das, Kamadkhya Prasad Roy, Hemant Medhi, Rajib Kakati, Sanjib Borthakur, Rafique Hasan, Ananta Borah, Debananda Dutta, Dibyendu Sarkar, Tapas Das, Pintu Ghosh, Ramshankar Singh, Jai Prakash Singh, Tridip Banerjee, Ranadip Majumdar, K . Satish, Kavitha Udayashankar, Balakrishna Shenoy, Lakshmi Kamath, G.S. Amith & S.B. Yogamani.